12 साल की मासूम बच्ची से मौलाना के द्वारा जबरन गंदी हरकत करने का मामला आया सामने#Agra News

0
25

Agra News: आगरा के थाना मलपुरा के मदरसा मदीना तुली इस्लाम तेलीपाड़ा मौलाना साकिर के द्वारा 12 साल की मासूम नाबालिक बच्ची के साथ जबरन दुष्कर्म करने और गंदी हरकत करने का मामला सामने आया 12 साल की मासूम बच्ची ने बताया कि मौलाना साकिर आए दिन उसके साथ करते थे गंदी हरकत और उसके जैसी अन्य बच्चों के साथ भी करते हैं गंदी हरकत किसी के सामने मुंह ना खोलें इसलिए जान से मारने की देते हैं धमकी. ईद पर मुलाकात करने पहुंची नाबालिक बच्ची की मां को बताई पूरी आपबीती जिसके बाद नाबालिक बच्ची के माता-पिता ने मौलाना से बात की तो मारपीट कर माता-पिता को मदरसे से भगाया जिसके बाद माता-पिता ने एसएसपी से की मुलाकात । फिलहाल मदरसे से मौलाना शाकिर और उसकी पत्नी फरार।

गरीब बच्चो के नाम पर खोल रखा है मदनपुरा के तेलीपारा में मदरसा:
मदीना तुली इस्लाम तेलीपाड़ा गरीब बच्चों के पढ़ाने के नाम पर रखा है जिसमें सिर्फ लड़कियां ही है जहां गरीब परिवार के लोगों को एक बच्चे की पढ़ाई के लिए साल का ₹12000 देना होता है फिलहाल इस मदरसे में 30 बच्चियां रह रही है.

गर्ल्स हॉस्टल में नहीं है इजाजत पुरुष के रहने की :
किसी भी गर्ल्स हॉस्टल में पुरुष के रहने की इजाजत नहीं है इस मदरसे में भी दो अध्यापक बाहर से आते हैं और पढ़ा कर वापस चले जाते हैं मदरसे में तालीम देने वाली शिक्षिका अपने मौलाना साकिर पति के साथ मदरसे में ही रहती हैं बच्ची ने बताया कि रात को पैर दबाने के बहाने या किसी ना किसी बहाने से मौलाना अपने कमरे में बच्चों को बुलाते हैं और उनके साथ गलत काम करता है।

बच्ची ने कहा अन्य लड़कियों के साथ भी करते हैं गलत काम नाबालिक बच्ची ने बताया कि उसकी जैसी अन्य बच्चों के साथ भी मौलाना कपड़े उतरवाकर गलत हरकत करते हैं जिसका विरोध बच्चियां जब करती है तो उन्हें जान से मारने की और मदरसे से निकालने की देते हैं धमकी।

नाबालिक बच्ची के पिता ने बताया कि 3 साल पहले उर्दू-अरबी पढ़ने के लिए मदरसे में उसका एडमिशन कराया था. पिछले 3 साल से मासूम बच्ची उसी मदरसे में रह रही थी. लेकिन पिछले महीने मौलाना ने बच्ची के साथ गंदी हरकत की और उसके साथ गलत काम करने की कोशिश की. वहीं, उसके जैसी अन्य लड़कियों के साथ भी मौलाना इसी तरह की गंदी हरकतें करता है, जिसके बारे में बच्ची ने रो-रोकर बताया. वे लड़कियां किसी को कुछ न बताने के लिए जान से मारने की धमकी दिया करते थे.

नाबालिक बच्ची के पिता से जब दी आगरा न्यूज़ संबाददाता ने बात की तो तो उन्होंने बताया कि 3 साल पहले उर्दू-अरबी पढ़ने के लिए बच्ची का मदरसे में एडमिशन कराया था. 3 साल से मासूम बच्ची उसी मदरसे में रह रही थी. लेकिन पिछले महीने मौलाना ने बच्ची के साथ गंदी हरकत की और उसके साथ गलत काम करने की कोशिश की.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here