Why is Russia attacking Ukraine?

0
203
why-russia-attacked-ukrain

रूस ने यूक्रेन पर हवा, जमीन और समुद्र के रास्ते, विनाशकारी हमला किया है लेकिन हर किसी को ये सवाल परेशान कर रहा है कि Why is Russia attacking Ukraine? आखिरकार रूस ने यूक्रेन पर हमाल क्यों किया । तो जानिए यूक्रेन (Ukraine) और रूस के विवाद कि वजह ।रूस और यूक्रेन के बीच जारी तनाव नया नहीं है । करीब 30 साल पहले तक दोनों देश एक थे लेकिन आज रूस यूक्रेन की सीमा सबसे तनाव पूर्ड सीमाओं में से गिनी जाती है । लेकिन रूस यूक्रेन के विवाद की वजह क्या है ।इसके लिए समझिये 20 वी सदी में यूक्रेन रूस साम्राज्य का हिस्सा था ।1917 में Vladimir Lenin  के नेतृत्व में हुई रूसी क्रांति के बाद 1918 मै यूक्रेन ने आजादी की घोषणा कर दी लेकिन 1921 में  Vladimir Lenin की सेना ने हारने के बाद 1922 में यूक्रेन सोबियत संघ का हिस्सा बन गया । यूक्रेन में रूस से आजादी के लिए संघर्ष चलता रहा और और रूस के खिलाब कई हथियारबंद समूह ने विरोध की कोशिस की जो सफल नहीं हुई । 1954 में सोवियत संघ के नेता ने इस विरोध को दवाने के लिए क्रिमीआ आइलैंड को तोहपे में दे दिया ।1991 में सोवियत संघ के बिघटन के बाद यूक्रेन ने अपनी आजादी का ऐलान कर दिया । आजाद होते ही यूक्रेन रूसी प्रभाव से मुक्ति की कोशिश में जुट गया और इसके लिए उसने पच्छिमी देशो से नज़दीकिया बड़ाई ।

रूस और यूक्रेन दोनों देशो के बीच का तनाव अब चरम पर पहुंच गया है। इस विवाद की बजह से अब महाशक्तियों के बीच भी जंग छिड़ने का खतरा बढ़ गया है। अमेरिका और ब्रिटेन यूक्रेन का साथ दे रहे हैं तो वहीं, रूस ने अंजाम भुगतने की चेतावनी दे दी है.

पुतिन ने अपनी न्यूक्लियर फोर्स को हाई अलर्ट कर दिया है और यूक्रेन के राष्ट्रपति जेलेंस्की अब रूस से बातचीत को तैयार हो गए है

यूक्रेन(Ukraine) और रूस के बीच जारी युद्ध के बीच हालात पल-पल बदल रहे हैं। रूस ने अपनी न्यूक्लियर फोर्स को अलर्ट कर दिया है, वहीं दोनों देशों के प्रतिनिधि बातचीत करने को भी तैयार दिख रहे है। दोनों देशों के डेलिगेशन बातचीत के लिए तय स्थान पर पहुंचने लगे हैं।हालांकि, अभी बातचीत शुरू नहीं हुई है।जेलेंस्की ने बेलारूस के राष्ट्रपति से बातचीत की और कहा कि वे रूस के साथ बिना शर्त बातचीत के लिए तैयार हैं हालाँकि वो इस बातचीत के लिए बेलारूस मैं करने को तैयार नहीं हुए बेलारूस के बॉर्डर पर बातचीत कर सकते है ।जेलेंस्की ने वीडियो जारी कर बताया कि बेलारूस के राष्ट्रपति ने जिम्मेदारी ली है। जैसे ही लेंस्की की ओर से ये बयान आया तो उसके कुछ ही देर बाद रूस की और से भी बयान आया की हम बातचीत के लिए हमले नहीं रोकेंगे । रूस के राष्ट्रपति ने रक्षामत्रालय को आदेश भी दे दिए है न्यूक्लियर फोर्स को हाई अलर्ट पर रखा जाये ।रूसी मीडिया के मुताबिक रूस ने यूक्रेन पर रासायनिक हथियारों का इस्तेमाल करने का आरोप भी लगाया है

अरीबा खान :

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here